मनरेगा से गांव के गरीब करा सकेंगे व्यक्तिगत काम

प्रतापगढ़ : टारगेट-फाइव के तहत गांव के गरीब लोग अब मनरेगा से अपना व्यक्तिगत कार्य करा सकेंगे। इसके अंतर्गत वह भूमि सुधार, जमीन का समतलीकरण, मेड़बंदी के अलावा मवेशियों का शेड बनवा सकेंगे। इसके लिए मनरेगा विभाग सत्यापन कराएगा। सत्यापन के बाद पात्र को इससे लाभान्वित किया जाएगा। इसकी कार्ययोजना तैयार हो रही है। माह के अंत से इस पर कार्य शुरू हो जाएगा।

जिले भर में 17 ब्लॉक हैं। इसके अंतर्गत सदर, मानधाता, गौरा, शिवगढ़, आसपुर देवसरा, पट्टी, मंगरौरा, संडवा चंद्रिका, बाबा बेलखरनाथ, बिहार, लालगंज, सांगीपुर, कुंडा, कालाकांकर, रामपुर संग्रामगढ़, लक्ष्मणपुर सहित अन्य ब्लाक हैं। इसके अंतर्गत एक हजार 193 ग्राम पंचायतें हैं। ग्राम पंचायतों में डेढ़ लाख से अधिक मनरेगा मजदूर हैं। जो ग्राम पंचायतों में काम कर रहे हैं। मनरेगा से इनको रोजगार दिया गया है। मनरेगा विभाग के अनुसार टारगेट-फाइव के अंतर्गत चकरोड निर्माण, बकरी पालन शेड, मुर्गी पालन शेड आदि तरह के निजी कार्य मनरेगा मजदूर से करा सकेंगे। इसके लिए सभी ब्लाकों के बीडीओ को डीसी मनरेगा डा. एनएन मिश्रा ने आवश्यक दिशा निर्देश जारी किया गया है। ग्राम पंचायतों से कार्ययोजना मांगी गई है। डीसी मनरेगा ने बताया कि मनरेगा से मवेशियों का शेड, मेड़बंदी करवाने आदि की कार्ययोजना बनाने को कहा गया है। पात्र ही मनरेगा से अपना व्यक्तिगत काम करा सकेंगे।

Leave a Reply

%d bloggers like this: